औरंगाबाद के सभी पर्यटक स्थल घूमने की संपूर्ण जानकारी

औरंगाबाद अपने ऐतिहासिक स्थल अजंता एलोरा की गुफाएं , दौलताबाद का किला, बीवी का मकबरा  तथा औरंगाबाद की गुफाएं के लिए पूरी दुनिया में प्रसिद्ध है |

औरंगाबाद के सभी पर्यटक स्थल घूमने की संपूर्ण जानकारी

औरंगाबाद के सभी पर्यटक स्थल घूमने की संपूर्ण जानकारी ( Best Tourist Places in Aurangabad in Hindi )

औरंगाबाद की परिचय (Aurangabad in Hindi):

  • औरंगाबाद भारत के महाराष्ट्र राज्य में स्थित है | औरंगाबाद अपने ऐतिहासिक स्थल अजंता एलोरा की गुफाएं ,दौलताबाद का किला, बीवी का मकबरा  तथा औरंगाबाद की गुफाएं के लिए पूरी दुनिया में प्रसिद्ध है | इन ऐतिहासिक स्थलों को देखने के लिए देश-विदेश से पर्यटक यात्रा करते हैं | 

  • औरंगाबाद धार्मिक स्थल के लिए भी प्रसिद्ध है यहां पर 12 ज्योतिर्लिंग में से 1 ज्योतिर्लिंग घृष्णेश्वर मंदिर भी शामिल है |औरंगजेब मुगल काल का छठवां शासक था इसने ही औरंगाबाद का नाम अपने नाम पर रखा हुआ है |औरंगजेब अकबर के बाद सबसे ज्यादा समय तक शासन किया |औरंगाबाद में इंडस्ट्रियल एरिया भी है जहां पर 500 से ज्यादा कंपनियां हैं | 

  • औरंगाबाद की बोले जाने वाली भाषा आमतौर पर मराठी है लेकिन यहां पर हिंदी भाषा भी सबको समझ में आता है | यह एक ऐसा शहर है जहां पर मंदिर और दरगाह एक साथ खड़े हुए हैं | यहां पर हिंदू मुस्लिम बौद्ध राजवंशों द्वारा कई सालों तक शासित किया गया है | इस शहर में मुस्लिमों की संख्या ज्यादा है यहां पर आपको मुगल शैली भोजन का भी प्रभाव दिखेगा |

औरंगाबाद की इतिहास (Aurangabad History in Hindi ):

  • इस शहर को मलिक अंबर ने 1610 ईसवी में बसाया था |तब इसका नाम खिड़की रखा गया था |1626 ईसवी में मलिक अंबर के पुत्र फतेह खान ने इसका नाम फतेहपुर रख दिया |इसके बाद 1653 में औरंगजेब ने जब दक्षिण पर विजय प्राप्त किया तब उसने इस शहर का नाम फिर से बदलकर अपने नाम पर औरंगाबाद घोषित कर दिया |इस शहर में कुल 52 दरवाजे लगे हैं | औरंगजेब की 1707 में मृत्यु के बाद पार्थिव शरीर को औरंगाबाद के पास खुलताबाद में दफनाया गया |औरंगजेब सत्ता सुख के लिए अपने पिता शाहजहां को बंदी बना दिया तथा अपने भाई दारा शिकोह को गद्दारी के आरोप में फांसी पर लटका दिया|

औरंगाबाद के पर्यटक स्थल ( Tourist place in Aurangabad in Hindi ):

औरंगाबाद में घूमने वाले पर्यटक स्थल कई सारे हैं पर उनमें से हम कुछ महत्वपूर्ण पर्यटक स्थल के बारे में जानकारी दे रहे हैं|जो इस प्रकार हैं-

1.घृष्णेश्वर मंदिर.

2.बीबी का मकबरा.

3.अजंता की गुफाएं .

4. एलोरा की गुफाएं.

5.दौलताबाद किला.

6.औरंगाबाद गुफाएं.

7.सिद्धार्थ गार्डन. 

8.बानी बेगम गार्डन.

9. भद्रा मारुति मंदिर.

10.औरंगजेब का मकबरा.

11.महिसमाल हिल स्टेशन.

12. पनचक्‍की.

13. सोनेरी महल.

1. औरंगाबाद का प्रसिद्ध धार्मिक स्थल घृष्णेश्वर मंदिर-

(Grishneshwar Temple in Aurangabad in Hindi): 

  • भगवान शिव के 12 ज्योतिर्लिंग में से 1ज्योतिर्लिंग औरंगाबाद में स्थित है जिससे घृष्णेश्वर के नाम से जाना जाता है|  यह मंदिर तेरहवीं शताब्दी का है जो यूनेस्को विश्व धरोहर स्थल की सूची में शामिल है | बौद्ध धर्म द्वारा निर्मित एलोरा की गुफाएं के नजदीक ही यह मंदिर स्थित है | यह मंदिर भारत में सबसे छोटा ज्योतिर्लिंग मंदिर है|

औरंगाबाद से घृष्णेश्वर मंदिर की दूरी - Aurangabad To GrishneshwarTemple Distance 

  • औरंगाबाद रेलवे स्टेशन से  घृष्णेश्वर मंदिर  की दूरी लगभग 30 किलोमीटर है तथा एलोरा गुफा से 1.6 किलोमीटर है |अगर आप रेलवे स्टेशन पर आ गए हैं तो इस रास्ते पर जाने के लिए आप ऑटो बुक कर सकते हैं या कोई कैब बुक कर सकते हैं |

शिरडी (साईं बाबा )से घृष्णेश्वर मंदिर की दूरी-

Shirdi to  GrishneshwarTemple Distance 

  • मेरे प्रिय पाठक अगर आप शिरडी आते हैं घूमने के लिए तो यहां से आप औरंगाबाद  घृष्णेश्वर(12 ज्योतिर्लिंग में से 1ज्योतिर्लिंग ) का भी दर्शन करने आ सकते हैं शिरडी से घृष्णेश्वर की दूरी  लगभग 102 किलोमीटर है|अगर आप शिरडी से घृष्णेश्वर मंदिर आना चाहते हैं तो शिरडी से औरंगाबाद के लिए ट्रेन चलती है या फिर आप शिरडी से मनमाड चले जाइए| मनमाड स्टेशन से ट्रेन  के द्वारा आप औरंगाबाद आ जाएं  जब औरंगाबाद आ जाएंगे तो यहां से  कैब या ऑटो बुक करके आप घृष्णेश्वर महादेव का दर्शन करने आप जा सकते हैं | 

त्र्यम्बकेश्वर नासिक से घृष्णेश्वरऔरंगाबाद  की दूरी- 

Trimbakeshwar To Grishneshwar Distance 

  • नासिक में त्रंबकेश्वर का दर्शन करने  के बाद अगर आपका मन है घृष्णेश्वर शिवलिंग औरंगाबाद दर्शन  करना है तो इस प्रकार आ सकते हैं-

  • आप त्रंबकेश्वर से नासिक स्टेशन  आज जाएं फिर यहां से औरंगाबाद के लिए  ट्रेन पकड़े जब आप औरंगाबाद आ जाए तो यहां से ऑटो या कैब बुक करके महादेव का दर्शन करने जा सकते हैं|अगर आपके पास  कार है तो आप नासिक से औरंगाबाद सीधे आ सकते हैं या दूरी लगभग 180 किलोमीटर है |

2.औरंगाबाद का प्रमुख आकर्षण स्थल बीबी का मकबरा -

( Bibi Ka Maqbara Aurangabad in Hindi):

  • बीवी का मकबरा महाराष्ट्र के औरंगाबाद में स्थित है | इसे भारत का दूसरा ताजमहल कहा जाता है | शाहजहां ने अपनी बेगम मुमताज के याद में ताजमहल बनवाया | यह मकबरा औरंगजेब की पहली पत्नी  “राबिया-उद-दौरानी”  उर्फ 'दिलरास बानो बेगम' का सुंदर मकबरा है | इस मकबरे का पूरा निर्माण औरंगजेब का पुत्र आजमशाह ने1651 से1661के दौरान अपनी मां की स्मृति में बनवाया था | इस मकबरा को बनवाने का प्रेरणा आगरा के ताजमहल से मिला |बीवी का मकबरा औरंगाबाद रेलवे स्टेशन से लगभग 5.5 किलोमीटर की दूरी पर है |कुछ लोग इस  मकबरे को गरीबों का ताजमहल भी कहते हैं |यह औरंगाबाद के प्रमुख पर्यटक स्थलों में से एक है | बीबी के मकबरा को ”दक्कन के ताज” भी कहा जाता है|

  • औरंगजेब राबिया-उद-दौरानी की पहली पत्नी तथा सबसे प्रिय थी | औरंगजेब के कुल 5 संतान थे ,जिसमें मोहम्मद आजमशाह का अपनी मां से अत्यधिक लगाव था इन्होंने ही अपने दादा शाहजहां से प्रेरित होकर अपने मां के लिए ताजमहल का कॉपी बनवाने की इच्छा रखी लेकिन उस तरह से अच्छे से बन नहीं पाया |

3.औरंगाबाद का प्रसिद्ध पर्यटन स्थल अजंता की गुफाएं -

( Ajanta Caves Aurangabad in Hindi):

  • अजंता की गुफाएं महाराष्ट्र के औरंगाबाद  में स्थित है| औरंगाबाद शहर से इसकी दूरी लगभग 105 किलोमीटर है|  अजंता की गुफाएं एलोरा की गुफाओं से काफी पुराना है |अजंता की गुफाएं वघोरा नदी के किनारे एक घोड़े की नाल के आकृति के चट्टानी क्षेत्र को काटकर बनाई गई है  इस घोड़े के नाल्के आकृति के पहाड़ पर 29 गुफाओं का एक संग्रह है |

  • इस गुफा को यूनेस्को ने विश्व धरोहर स्थल घोषित कर दिया है |वैसे तो अजंता और एलोरा गुफाओं के बीच की दूरी लगभग 100 किलोमीटर है |  घने जंगलों में छिपी हुई इन गुफाओं से दुनिया तब तक अनजान थी जब तक कि ब्रिटिश अधिकारी  की 1896 में अचानक इन गुफाओं पर नजर पड़ी |

        अजंता की गुफाएं जलगांव से 60 किलोमीटर है तथा भुसावल से 70 किलोमीटर की दूरी पर है 

        पास ही  नजदीक गांव अजंता के नाम पर इन गुफाओं का नाम पड़ा है इन गुफाओं में भगवान बुद्ध की कई प्रतिमाओं के साथ ही दीवार पर बौद्ध धर्म से जुड़ी कई पेंटिंग भी बनाई गई हैं |

4.औरंगाबाद का दर्शनीय स्थल एलोरा की गुफाएं -

(Ellora Caves Aurangabad in Hindi):

  • एलोरा गुफा भारत के महाराष्ट्र राज्य के औरंगाबाद जिले में स्थित है, यह यूनेस्को की विश्व विरासत स्थल है|एलोरा की गुफाएं औरंगाबाद रेलवे स्टेशन से लगभग 31 किलोमीटर है तथा या घृष्णेश्वर मंदिर( ज्योतिर्लिंग )से 1.3 किलोमीटर की दूरी पर है |इस गुफा में बौद्ध धर्म ,हिंदू धर्म और जैन धर्म से संबंधित स्मारकों की विशेषताएं और कला देखने को मिलती है| एलोरा में कुल 34 गुफाएं हैं जो इस प्रकार हैं-

        12 बौद्ध गुफाएं(1-12), 17 हिंदू गुफाएं(13-29) और 5 जैन गुफाएं(30-34) हैं |

  • एलोरा की गुफाएं 600 से 1000 ईसवी काल का है|इस गुफा की सुंदरता को देखने के लिए लोग देश-विदेश से पर्यटक आते हैं अच्छे से इस गुफा को घूमने के लिए लगभग 3 से 4 घंटे का समय लगता है| यहां पर अगर आप गर्मियों में जा रहे हैं तो अपना पानी का बोतल लेकर जाएं|

5.औरंगाबाद में घूमने के लिए दौलताबाद किला - 

(Daulatabad Fort Aurangabad in Hindi):

  • दौलताबाद किला भारत के महाराष्ट्र राज्य के औरंगाबाद शहर से लगभग 24 किलोमीटर दूर दौलताबाद में स्थित है|यह किला मध्यकालीन का भारत का सबसे ताकतवर किला था | शुरू में इस किले का नाम देवगिरी था जिसका निर्माण कैलाश गुफा का निर्माण करने वाले राष्ट्रकूट शासक ने किया था |किले पर यादव ,खिलजी ,तुगलक वंश ने शासन किया मोहम्मद तुगलक ने देवगिरी को अपनी राजधानी बना कर इसका नाम दौलताबाद  कर दिया आज  दौलताबाद का नाम भारत के इतिहास में स्वर्णिम अक्षरों में वर्णित है | 

  • यह किला 190 मीटर ऊंचाई पर स्थित शंकु के आकार का है|चांद मीनार ,चीनी महल इस किले के प्रमुख स्मारक हैं |चांद मीनार की ऊंचाई लगभग 63 मीटर है |इसे अलाउद्दीन बहमनी शाह ने 1435 में दौलताबाद पर विजई होने के उपलक्ष में बनवाया था |

  • मेरे प्रिय पर्यटक आप जब भी इस किले को देखने जाए तो अपने साथ पानी की बोतल जरूर ले जाएं क्योंकि किले की चढ़ाई बहुत ज्यादा है |आप सावधानीपूर्वक ही चढ़े जिनको बीपी की समस्या है या कोई अन्य बीमारी है तो कृपया वह इस किले की चढ़ाई ना चढ़े क्योंकि सास बहुत ज्यादा फूलने लगता है तथा गर्भवती महिला भी ध्यान दें जबरदस्ती चढ़ाई ना चढ़े|

6. औरंगाबाद का ऐतिहासिक स्थल औरंगाबाद की गुफाएं-

 (Aurangabad Caves Aurangabad in Hindi): 

  • मेरे प्रिय पर्यटक औरंगाबाद की गुफाएं बीवी का मकबरा तथा सोनेरी महल के बहुत ही नजदीक स्थित है | औरंगाबाद की गुफाएं औरंगाबाद रेलवे स्टेशन से 9 किलोमीटर तथा बीवी का मकबरा से 2.5 किलोमीटर स्थित है |यह गुफा एक ही पहाड़ में दो पार्ट में बना हुआ है | यहां 2 टिकट काउंटर हैं,किसी भी एक टिकट काउंटर से टिकट ले | टिकट लेने के बाद दोनों  पार्ट की बनी गुफाओं का आनंद लीजिए | यह गुफाएं छठवीं और आठवीं शताब्दी की हैं, भारत की सबसे आकर्षक गुफाओं में से एक मानी जाती हैं |

7.औरंगाबाद पर्यटन में घूमने लायक जगह सिद्धार्थ गार्डन -

(Siddharth Garden Aurangabad in Hindi ):

  • सिद्धार्थ गार्डन औरंगाबाद रेलवे स्टेशन से लगभग 3 किलोमीटर की दूरी पर है तथा बीवी का मकबरा से 4 किलोमीटर की दूरी पर स्थित है यह एक आकर्षक स्थल है जो हरे भरे दृश्यों से भरा हुआ है यह गार्डन एक बड़ा क्षेत्र में फैला हुआ है और इसमें पार्क के साथ एक चिड़िया घर भी हैयह स्थान प्राकृतिक प्रेमियों और फोटोग्राफर के लिए बहुत लोकप्रिय स्थान हैं यहां पर शाम को बहुत ही भीड़ रहती है| यहां पर कई जंगली जानवर है जैसे बाघ ,शेर ,तेंदुआ, बिल्ली और सांप, मगरमच्छ ,लोमड़ी, हिरण ,लकड़बग्घा आदि देखे जा सकते हैं|हमारे प्रिय पर्यटक आप जब भी यहां पर जाए यहां पर टिकट कटती है उसके बाद आप अंदर जाएं और अपना अच्छा से टाइम बिताएं और एंजॉयमेंट करें अंदर एक दुकान भी है जहां से आप कुछ चाय  पानी कर सकते हैं |

8.औरंगाबाद में देखने लायक जगह बानी बेगम गार्डन –

(Bani Begum Garden Aurangabad in Hindi):

  • बानी बेगम गार्डन एक हरे-भरे स्थल पर मुगल वास्तुकला का शानदार और अद्भुत नमूना है | इसका नाम औरंगजेब के बेटे आजम शाह की पत्नी बनी बेगम के नाम पर है जो भी पर्यटक औरंगाबाद की यात्रा के लिए जाते हैं वह लोग बानी बेगम गार्डन का दौरा करने के लिए कुछ समय जरूर निकाल लेना चाहिए |यह गार्डनऔरंगजेब की कब्र के नजदीक ही है| बानी बेगम गार्डनऔरंगाबाद से लगभग 24 किलोमीटर की दूरी पर स्थित है |

9.औरंगाबाद का दर्शनीय स्थल भद्रा मारुति मंदिर – 

(Bhadra Maruti Temple Aurangabad in Hindi):

  • भद्र मारुति मंदिर औरंगाबाद के पास स्थित एक प्रसिद्ध मंदिर है जो हिंदू देवता हनुमान जी को समर्पित है| यह मंदिर भारत के उन तीन मंदिरों में से एक है जहां पीठासीन देवता हनुमान जी की मूर्ति को शयन मुद्रा में देखा जाता है इसके अलावा अन्य दो मूर्ति इलाहाबाद और मध्य प्रदेश में है |यह  मंदिर एलोरा गुफा से सिर्फ 4 किलोमीटर की दूरी पर स्थित है |अगर आप औरंगाबाद की यात्रा के लिए आ रहे हैं तो घृष्णेश्वर महादेव का दर्शन करने के बाद भद्र मारुति हनुमान जी का दर्शन करने जरुर जाएं|

10.औरंगाबाद का फेमस टूरिस्ट प्लेस औरंगजेब का मकबरा –

(Tomb of Mughal Emperor Aurangzeb in Aurangabad in Hindi):

  • औरंगजेब का मकबरा भारत के महाराष्ट्र राज्य के औरंगाबाद के नजदीक खुलताबाद नामक स्थान पर स्थित है |औरंगजेब मुग़ल सल्तनत का अंतिम महान शासक था इसकी मृत्यु के बाद मुगल साम्राज्य पतन की ओर अग्रसर हो गया | या मकबरा औरंगाबाद से लगभग 25 किलोमीटर दूर स्थित है |ऐसा कहा जाता है कि औरंगजेब की यहां प्रबल इच्छा थी मृत्यु के बाद दफन होने की |औरंगजेब का मकबरा बहादुर शाह जफर ने बनवाया था  औरंगजेब ने 15 करोड़ लोगों पर करीब 49 साल तक राज किया | 

11.औरंगाबाद का खुबसूरत आकर्षण महिसमाल हिल स्टेशन –

 (Mhaismal Hill Station Aurangabad in Hindi):

  • महिसमाल में पहुंचकर आप खुद को प्रकृति के बेहद ही करीब महसूस करेंगे। महिसमाल लोगो के बीच वनस्पति कार्यशाला के रूप में भी जाना जाता है,आप यहां विभिन्न प्रकार की वनस्पतियों को देख सकते हैं। औरंगाबाद शहर से लगभग 33 किलोमीटर दूर स्थित है| यहां पर बरसात में तथा सर्दियों में जाना अच्छा रहता है|

औरंगाबाद घूमने जाने का सबसे अच्छा समय – 

Best Time To Visit Aurangabad in Hindi

  • अगर आप औरंगाबाद की यात्रा करने का प्लान कर रहे हैं तो आपको सबसे अच्छा समय यहां का सर्दियों के दौरान नवंबर से फरवरी तक रहता है क्योंकि औरंगाबाद में गर्मी बहुत ज्यादा पड़ती है और सर्दी बहुत कम पड़ती है|

औरंगाबाद कैसे पहुंचे – 

How To Reach Aurangabad in Hindi

  • औरंगाबाद भारत में सबसे लोकप्रिय पर्यटक स्थलों में से एक है यहां पर विदेशों से अजंता एलोरा की गुफाएं बीवी का मकबरा देखने के लिए अधिक संख्या में पर्यटक आते हैं इस वजह से सड़क मार्ग, रेल मार्ग और फ्लाइट द्वारा अन्य शहरों से अच्छी तरह जुड़ा हुआ है मेरे प्रिय पाठक आप दिल्ली कोलकाता हैदराबाद मुंबई प्रमुख शहरों से यात्रा बड़ी आसानी से कर सकते हैं |अगर आप औरंगाबाद रेलवे स्टेशन पर हैं तो वहां से कोई भी ऑटो या कैब बुक करके बीवी का मकबरा आप पहुंच सकते हैं | 
  • अगर आप सीधे औरंगाबाद आ रहे हैं तो औरंगाबाद के पर्यटक स्थल दर्शन करने के बाद आप शिर्डी भी जा सकते हैं तथा सनी सिगनापुर |

1. हवाई यात्रा द्वारा औरंगाबाद तक कैसे पहुंचे-

( How To Reach Bibi Ka Maqbara  By Flights in Hindi ):

  • औरंगाबाद एयरपोर्ट से प्रतिदिन दिल्ली ,मुंबई ,हैदराबाद तथा अन्य शहरों के लिए कनेक्टिंग फ्लाइट हैं|

2. ट्रेन द्वारा औरंगाबाद तक कैसे पहुंचे-

(How To Reach Aurangabad maharastra By Train in Hindi ):

  • औरंगाबाद रेलवे स्टेशन की कनेक्टिविटी अगर आपके रेलवे स्टेशन से नहीं है तो आप औरंगाबाद के नजदीक मनमाड रेलवे स्टेशन के लिए आप अपने यहां से ट्रेन देख सकते हैं मनमाड से औरंगाबाद के लिए प्रतिदिन ट्रेन है यहां से मनमाड लगभग 3 घंटे का रास्ता है|दूसरा तरीका यह है कि आप सीधे मुंबई के लिए ट्रेन देख लीजिए मुंबई से आप औरंगाबाद आ सकते हैं | 

3. सड़क से औरंगाबाद तक कैसे पहुंचे

( How To Reach Aurangabad By Road in Hindi ):

  • जो भी पर्यटक यहां सड़क मार्ग से आना चाहते हैं या फिर अपने गाड़ियों द्वारा आना चाहते हैं तो हम बता दें कि औरंगाबाद डायरेक्ट नागपुर , मुंबई ,पुणे तथा गुजरात और भोपालअन्य शहरों से जुड़ा हुआ है| इस मार्ग पर स्लीपर ए सी  और नॉन एसी बस चलती हैं |

यात्रियों के लिए टिप्स- (Tips for  Aurangabad tourist):

  • हमारे प्रिय पर्यटक यदि आप औरंगाबाद आ रहे हैं तो आप  2 दिन तथा एक रात का प्लान करके पूरा औरंगाबाद अच्छे से घूम सकते हैं | 2 दिन इसलिए लगेगा कि यहां के जो टूरिस्ट स्पॉट है उनके बीच की डिस्टेंस ज्यादा है|

  • औरंगाबाद में शराब पीने वालों के लिए बहुत अच्छी जगह है यहां पर एक से बढ़कर एक बार हैं आप वहां पर जाकर शराब का आनंद ले सकते हैं लेकिन आप यहां पर राते रंगीन नहीं कर सकते हैं क्योंकि ऐसी यहां पर कोई व्यवस्था नहीं है| 

  • यहां के सभी पर्यटक स्थल को घूमने के लिए आप कैब बुक कर सकते हैं या फिर ऑटो बुक कर सकते हैं या फिर Redgotrip से कैब बुक कर सकते हैं | 

प्रोजोन मॉल-

(Prozone Mall):

प्रोजोन मॉल में यह सब कर सकते हैं-

 बारबेक्यू नेशन (Barbeque Nation): 

  • औरंगाबाद में नॉनवेज  खाने वालों का अलग ही स्वाद है यहां पर प्रोजोन मॉल  के  दूसरे फ्लोर पर बारबेक्यू नेशन है  यहां पर आप अनलिमिटेड वेज और नॉनवेज खा सकते हैं यहां की प्राइस पर प्लेट लगभग 700 से ₹800 है यहां पर जाने के लिए आपको शाम को 6:00 से 7:00 बजे तक पहुंच जाना है या फिर आप नेट पर सर्च करके बारबीक्यू का नंबर निकाल कर कांटेक्ट कर सकते हैं और अधिक जानकारी के लिए | यहां पर जब भी जाइए आप पहले आप स्टार्टर खाइए उसके बाद फिर आप मेन कोर्स में जाइए कुछ आइटम का यहां पर अलग से पैसा देना पड़ता है तो अपनी सुविधा के लिए अब वेटर से पूछ लीजिएगा |

  • प्रोजोन मॉल में एक से बढ़कर एक खाने वाले रेस्टोरेंट है  आप यहां पर नाइट शो की मूवी भी देख सकते हैं यह एक अच्छा मॉल है यहां पर सभी ब्रांड के प्रोडक्ट मिल जाएंगे |